The School Weekly 27th September 2021

 News & Events

The school reopened for the middle section from 20th September'21, students were happy and excited to come back to the physical school.

Experience
It was a fun learning experience for me to participate in the Inter House Origami Competition held in our school. I had really enjoyed making different things using paper. It was a wonderful experience to see different  creative works of paper and was fun to create models with our friends. While doing this activity, we were thinking  how in smaller classes we used to learn these kinds of craft work in school. At last it was a great experience for me. 
Jatin Tripash / XI Science

Skills
It is a 3D Art form in which you use realistic material to make such things. For example in this portrait I have used some chains, which I had taken from my mom's old bangles a month ago and made really good use of it. In this portrait, some diamonds of different sizes and glitter foam sheets. I have made this portrait on an old wedding card. It took me two days to complete this portrait because it is such a long process ‌, you have to first draw the face of the lady and the jewelry and then you have to paint it. I had made these shades of paints by mixing two or three colours together to make the perfect shade which I wanted. After painting, I have sticked these chains and the glitter foam sheets by taking proper measurements according to the ornaments. If you think of any new idea and if it executes the same you thought of, it feels nice. For me, the whole process was really satisfying and exciting as I was trying something new.
Himanshi Rajpurohit / IX A

Leaf Painting
                                       Jaidhiraj Singh Ranawat/UKG                                                                   Takshika / UKG

मेरा नाम है हिमानीष परिहार है और आज मैं आपको बताऊंगा सब्जियों से सलाद कैसे बनाते हैं।मैंने यहां पर खीरा ककड़ी , टमाटर और प्याज लिए है । इन तीनों को अच्छी तरह से बारीक काट लिया है अब मैं यह तीनों सब्जियां एक बाउल में मिक्स करूंगा और उसमें पुदीना पाउडर, नमक ,चाट मसाला पाउडर और नींबू का रस मिलाकर हरा धनिया डालकर इसको तैयार करूंगा । सब्जियां खाने से हमें ताकत मिलती हैं और बहुत सारे विटामिन भी मिलते हैं।  हमें हरी सब्जियां ज्यादा खानी चाहिए ताकि हम लोग तंदुरुस्त और स्वस्थ रहें।  धन्यवाद 

 हिमानीष परिहार / III
Sports
Saikhom Mirabai Chanu (born 8 August 1994) is an Indian weightlifter. She won the silver medal at the 2020 Tokyo Olympic in the women's 49kg category. Mirabai Chanu has won the World championship and multiple medals at the Commonwealth games. She was awarded the Padma Shri by the government of India for her contribution to sports. She was awarded the Major Dhyan Chand Khel Ratna award by the government of India in 2018. India have won their first medal at the Tokyo Olympics. India's star weightlifter Mirabai Chanu ,who has won the silver. The way she has bounced back is absolutely incredible . Mirabai Chanu, the 2017 world champion , lifted 86kg in snatch and a World record 119kg in clean and jerk for a total of 250kg to win the bronze medal at the Asian championship in April this year. Her perfect clean and jerk of 119kg is a world record.
Rajal Sonigara / XI
मेरा नाम सिपाही है|

सरहद पे गोली खाके जब टूट जाए मेरी सांस
मुझे भेज देना यारों मेरी बूढ़ी मां के पास
बड़ा शौक था उसे मैं घोड़ी चढूं
धमाधम ढोल बजे
तो ऐसा ही करना
मुझे घोड़ी पे लेके जाना
ढोलकें बजाना
पूरे गांव में घुमाना
और मां से कहना
बेटा दूल्हा बनकर आया है
बहू नहीं ला पाया तो क्या
बारात तो लाया है
मेरे बाबूजी, पुराने फ़ौजी, बड़े मनमौजी
कहते थे- बच्चे, तिरंगा लहरा के आना
या तिरंगे में लिपट के आना
कह देना उनसे, उनकी बात रख ली
दुश्मन को पीठ नहीं दिखाई
आख़िरी गोली भी सीने पे खाई
मेरा छोटा भाई, उससे कहना
क्या मेरा वादा निभाएगा
मैं सरहदों से बोल कर आया था
कि एक बेटा जाएगा तो दूसरा आएगा
मेरी छोटी बहना, उससे कहना
मुझे याद था उसका तोहफ़ा
लेकिन अजीब इत्तेफ़ाक़ हो गया
भाई राखी से पहले ही राख हो गया
एक आख़िरी गुज़ारिश
आख़िरी ख़्वाहिश
मेरी मौत का मातम न करना
मैने ख़ुद ये शहादत चाही है
मैं जीता हूं मरने के लिए
मेरा नाम सिपाही है|
Abhinav Singh / IX

एक मित्र सौ मित्रों के बराबर
सच्ची दोस्ती ही एकमात्र रिश्ता है जो हम जीवन में कमाते हैं। बचपन से हम हमेशा अपने दोस्तों की संगति में कुछ नई और रोमांचक चीजें सीखते हैं। दोस्तों के साथ बिताया गया एक मजेदार समय एक तरह की खुशी है जिसे व्यक्त नहीं किया जा सकता है। चाहे आप समूह अध्ययन करें या किसी के जन्मदिन की पार्टी में आनंद ले यह हमेशा दोस्तों के साथ मजेदार होता है।
एक मित्र सौ मित्रों के बराबर होता है इसका यह अर्थ है कि यदि आपके पास बहुत सारे दोस्त है लेकिन यदि आपके मुसीबत के वक्त वही दोस्त आपके साथ ना हो और आपकी सहायता ना करें तो वे आपके सच्चे मित्र नहीं होते। लेकिन अगर आपके पास एक सच्चा मित्र है तो वह आपके सौ मित्रों के बराबर होता है। एक सच्चा मित्र किसी भी परिस्थिति में आपका साथ नहीं छोड़ता है और हमेशा आपके साथ खड़ा रहता है। वह हर छोटे से छोटे कष्ट में भी हमेशा आपकी सहायता करता है।  वह हमारे दुख और सुख का साथी है। सच्चा मित्र वह है जो सत्यवादी, कर्तव्यनिष्ठा, कार्यकुशलता तथा व्यवहार में ईमानदार होता है। उसमें आडंबर की भावना नहीं होती है। वह कभी भूल कर भी अपने मित्र के किसी भी भूल और दोषों से नाराज होकर मुंह नहीं फेरता है। एक सच्चे मित्र के साथ हम अपने सारे राज बता सकते हैं क्योंकि हमें उस पर विश्वास होता है और हमारा सच्चा मित्र हमें कभी धोखा नहीं देता है। 
एक सच्चा मित्र खोजना जैसे कोयले की खदान में से हीरा तलाशने के समान है। जीवन में एक सच्चा दोस्त पाना बहुत ही मुश्किल है। वह निस्वार्थ भाव से अपने दोस्त की सहायता करता है। सच्चा मित्र अपने दोस्त की प्रकृति को देखकर खुश होता है। इस भाग-दौड़ की दुनिया में एक सच्चा मित्र पाना बड़े ही सौभाग्य की बात होती है। एक सच्चा मित्र हमेशा आपकी सहायता करेगा और सही मार्ग पर चलने का आश्वासन देगा। इसलिए हमें हमारे मित्र का हमेशा आदर करना चाहिए और उसे कभी नहीं खोने देना चाहिए।
Ritu Parihar / IX
आत्मविश्वास: प्रियंका देवड़ा 
आत्मविश्वास का अर्थ है स्वयं पर विश्वास करना। यह हर इंसान के जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा है। हर इंसान के जीवन में आशा और विश्वास का अहम भाग है, जो इंसान खुद पर विश्वास करता है, वह सफलता के मार्ग पर जाने की पहली सीढ़ी चढ़ता है। आजकल सभी इंसानों को एक अहम परेशानी है कि वह एक बार किसी चीज में असफल हो जाने पर खुद को कमजोर समझने लगता है तथा उसके बाद वह खुद पर विश्वास नहीं करता। इस बीच वही इंसान सफलता प्राप्त कर सकता है जो और असफल होने के बावजूद खुद पर विश्वास रखकर आगे बढ़ने की चाह रखें। जिस इंसान को स्वयं पर तथा अपने परिश्रम पर विश्वास होगा वही जीवन में कामयाबी हासिल कर पाएगा। 
हमारे बीच ऐसे भी लोग हैं जो बहुत परिश्रम करते हैं परंतु केवल एक बात के कारण वे पीछे रह जाते हैं और वह आत्मविश्वास ही है। कई ऐसे लोग भी हैं जिन्हें असफलता मिली परंतु उन्होंने खुद पर विश्वास रखा और आगे बढ़े। उदाहरण स्वरूप हम भीमराव अंबेडकर जी को देख सकते हैं जिन्हें बचपन में कई असफलताएँ मिली, कई जगह पर उन्हें लोगों द्वारा मानसिक रूप से प्रताड़ित भी किया गया परंतु उनमें आत्मविश्वास था और इसी कारण से वे अपने जीवन में सफल हुए। अगर उन्होंने भी उस वक्त खुद पर विश्वास न रखा होता तो शायद आज हम ऐसे किसी इंसान को नहीं जानते। हमारे आस-पास ऐसे और भी कई लोग हैं जो आत्मविश्वास को अपना प्रेरणास्रोत मान कर चलते हैं। 
युवा पीढ़ी में बहुत से ऐसे लोग हैं जो कुछ असफलताओं के कारण आत्महत्या तक कर लेते हैं और यह सब आत्मविश्वास की कमी के कारण ही है। वे कुछ चीजों के कारण खुद को कमजोर समझने लगते हैं तथा डिप्रेशन जैसी चीजों का शिकार हो जाते हैं। इस प्रकार हमारी युवा पीढ़ी मानसिक तथा शारीरिक रूप से परेशान हो जाती है। केवल युवा पीढ़ी नहीं हमारे बड़े भी इन चीजों का शिकार बन जाते हैं। अगर युवा पीढ़ी खुद पर विश्वास रखकर आगे बढ़े तो शायद हमारी युवा पीढ़ी जीने का नया तरीका सीख सकती है। बच्चे कई बार अपना परीक्षा परिणाम देखकर भी निराश हो जाते हैं, अगर उस वक्त आत्मविश्वास को अपना प्रेरणा स्रोत बनाएँ तो शायद वह आत्मविश्वास उनके जीवन को एक नई राह प्रदान कर सकता है।  
आत्मविश्वास एक ऐसी सोच है जो हमें हिम्मत जुटाने में सक्षम बनाती है। जिस इंसान कमजोर पड़ जाता है अगर उस वक्त उसके पास आत्मविश्वास होगा तो शायद वह उन तकलीफ से बहुत जल्द बाहर आ सकता है। अगर हमारी युवा पीढ़ी को आत्मविश्वास का मतलब सिखाया जाए तथा अगर उन्हें खुद पर विश्वास रखना सिखाया जाए तो शायद हमारी युवा पीढ़ी डिप्रेशन जैसी चीजों से दूर रह पाएगी। परंतु परेशानी यह है कि वह इस चीज में पीछे रह जाते हैं अगर उन्हें इस चीज का महत्व समझ आ जाए तो सभी लोग खुद की ताकत को समझ पाएँगे। 
Priyanka Deora / XI  

Animals are missing
Where the wild things are,
In the snow day.
Little bear was in a car.
The three little pigs on Tuesday,
Going where millions of cats were in a bed,
The cat was wearing a hat,
The frog and toad said
Love you forever dear cat.
A bear called Paddington
Going with the good dog, Carl.
The very hungry caterpillar was on the Stone
My father's dragon and the gruffalo snarl.
Mr. Popper's penguin was dancing,
But little owl nights were scary.
Oh, the places you'll go while dreaming,
Mummy said "Wake up and Go to the school Mary."
Khush Rajpurohit / XII 
Here's How Can We Teach Kids Compassion 
We all want our children to be kind and have compassion in their mind.  But the biggest question here is how to teach compassion, kindness to the child.  Children develop different levels of empathy at different ages.  Compassion and kindness requires the development of empathy for compassionate behavior.  We should keep talking to the children on this subject continuously. 
The thing about children is that if they see kindness and compassion in our behavior, they will behave the same way.  We will have to make many efforts for the development of sympathy.  Take the help of children to take care of any sick animal or bird.  Teach them to show empathy.  Encourage children to help someone in need.  Explain to the child why we should be sympathetic towards others.  If any classmate of the child is sick or injured, some person is poor or needy, some person is old or disabled, some animal is sick or hungry, then encourage the child to help, which will develop empathy and compassion in the child.  And feelings of compassion will be infused in him.
The best way for kids to learn compassion is through watching models of this behavior. Their teachers, parents, and other adults need to behave this way for children to see it as valuable and find approval in copying it. Finding compassion in moments of adversity is a skill that all adults should be working to master. The future generation depends on it.
Pinkee Chauhan/ Educator
Making Others Happy
A simple act of kindness can make us feel happy. The more we spread happiness, the more the world looks beautiful to us. Happiness is a beautiful emotion that gives positivity to move forward in life. During a difficult time, even a small act of kindness can change a person's mental state. It is essential to know how to make others happy. The simplest way to make someone happy is to be emotionally supportive of them. Everyone wishes to have unquestionable love and support. Everyone wants to speak about their feelings and wants a person to listen to them patiently. However, many times I don't get a chance to do it.
To make someone happy, all you need is to give your time and your patience. The sense of comfort and warmth is the best way to make someone happy. Even simple things like helping a person move or helping them finish some work can significantly influence the person. These small actions of selfless love can make someone happy. All these things make a huge difference and bring happiness to our life.
Shivani Rao/ Educator

Volume No. 485 Published by The Editorial Board: Ms. Monika Vaishnav, Ms. Urmila Rathore, Mr. Jitendra Suthar, Khush Rajpurohit, Ipshita Rathore, Vishal Rathore, Mangilal Dewasi, Jatin Tripash, Riya Vaishnav, Rahul Vaishnav,Tamanna Solanki, Khush Suthar, Komal Sompura and Kunal Rajpurohit

Taking Learning Forward @ The Fabindia School

Back Issues of The School Weekly