The School Weekly 19th September 2022

News & Events
Pre-Primary Picnic

On Tuesday, the 13th of September, students of the Pre-Primary Section were taken to the Sadri Municipal Garden for a picnic.  Students played in the park, played on the swings, exercised, and had a great time. Students and staff thoroughly enjoyed the picnic and had fun.
Sharing some fun filled pictures with you.

व्यसन मुक्त रहने के लिए छात्रों के समक्ष चर्चा

13 सितंबर को ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय की दीदी ने व्यसन मुक्त रहने के लिए छात्रों के समक्ष चर्चा की। इस तथ्य को स्पष्ट करने के लिए दीदी ने एक गतिविधि के जरिए यह समझाने का प्रयास किया की व्यसन से क्या -क्या नुकसान हो सकते है। एक सदस्य का व्यसन पूरे परिवार को संकट में डाल सकता है। आर्थिक हानि से भी जूझना पड़ सकता है। दीर्घायु बनने के लिए और परिवार को उचित सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए व्यसन मुक्त रहें और अपने संपर्क में रहने वाले व्यक्तियों को भी सचेत करें। यदि हम एक व्यक्ति को व्यसन मुक्त रहने का परामर्श दिया और सफल हो गए तो एक बड़ी उपलब्धि होगी।
इसके अतिरिक्त दीदी ने योगाभ्यास करवाया। जिससे मन और तन को स्वस्थ और प्रफुल्लित रखा जा सकता है। व्यसन से मुक्ति दिलाने के लिए भी योग का सहारा लिया जा सकता है।

Teacher's Training on Digital Citizenship
School Staff Members attended a session on "Digital Citizenship" organized by FICE. This session was to empower the teachers with digital tools. This session was conducted on Google meet platform.  Staff members showed active participation by answering to the questions that were being asked in the session. This session has been prone to be a great help in understanding the merits and demerits of digitalization.

Subroto Cup

Saturday, 17th September: The School Under - 17 Junior Girls' Football Team escorted by School Coach Mr. Abhay Singh & Ms. Monika Chouhan went to New Delhi to play the Football League; Subroto Cup. 
Hindi Diwas Celebrations



हिन्दी सप्ताह



दिनांक १२ सितम्बर से १७ सितम्बर २०२२ तक, विद्यालय में हिन्दी सप्ताह मनाया गया। प्रतिदिन प्रातः प्रार्थना-सभा में, हिन्दी भाषा एवं साहित्य पर आधारित करके, नियमित रूप से अलग-अलग कार्यक्रम एवं गतिविधियाँ आयोजित की गई। रचनात्मक कौशल के विकास और राष्ट्रभाषा हिन्दी में लेखन के प्रति रूचि बढ़ाने को लक्ष्य करके, १२ सितम्बर को कक्षावार हिन्दी निबंध प्रतियोगिता आयोजित की गई। १४ सितम्बर को 'हिन्दी दिवस' के अवसर पर विद्यार्थियों ने हिन्दी के महत्त्व को उद्घाटित करने वाली विभिन्न नामी कलमकारों की कालजयी कविताओं का लयबद्ध गायन और पठन करके रोमांचित कर दिया। 
'मिडिल सेक्शन' में सप्ताह के प्रथम दिवस सोमवार को प्रत्येक कक्षा के विद्यार्थियों ने उचित गति-यति और लय में भावानुकूल कविता-पाठ किया। इसी क्रम में मंगलवार को हिन्दी मुहावरों द्वारा संवाद करके अपनी विलक्षण प्रतिभा का परिचय दिया। बुधवार को आयोजित वाद-विवाद प्रतियोगिता में विद्यार्थियों की तर्कशक्ति ने सभी को दाँतो तले अंगुली दबाने को मजबूर कर दिया। गुरूवार को दोहावली द्वारा अन्त्याक्षरी के माध्यम से नीति ज्ञान का परिचय दिया। शुक्रवार को विद्यार्थियो ने हिन्दी के सिरमौर कवियों और लेखकों के छवि-चित्रों के प्रदर्शन के साथ उनकी प्रेरक जीवनियों पर प्रकाश डाला। सप्ताहांत में शनिवार को 'अंतर-सदन हिन्दी प्रश्नोंत्तरी-प्रतियोगिता' का आयोजन किया गया जिसमें विद्यार्थियों ने अपने विषयवस्तु ज्ञान एवं त्वरित-बुद्धि का परिचय दिया। इस प्रकार हिन्दी के प्रति अपनी निष्ठा एवं समर्पण का परिचायक यह सप्ताह अत्यंत प्रेणादायक और उत्साहवर्धक रहा।

Tinker Fest 2022




All Experiments Are Learning Experiences, even if they don't  work out as planned.
The Tinker Fest 2022-2023 was held in The Fabindia School, Bali. The experiments in Tinker Fest were amazing more than our imagination. It started on 14 September and ended on 17 September. In this program three schools have participated; those are The Fabindia School, K.S Lodha Public School, and Government Senior Secondary School (Bali).In total 12 Teams participated. All the school's made the best projects and the explanation of every group has to be appreciated. The judges of the program were Mr. Nimendra Singh, Mr. Avdesh Singh, Mr. Narendra Sharma, and Mr. Praveen Goyal. Judges gave importance to everyone and recognized the work of every student. Tinkle fest 2022-2023 remains the platform of learning and gives a great experience to every student who has taken part in it. The experience of all the schools was good and amazing. They learned new things; new bonds were made with teachers and the students. They hope that this type of learning activity should continue.
Winning Projects:- 
1st Animal Radiation Detecting Project
2nd Healthy Fruits Detection (AI)
2nd Automated Drip Irrigation
2nd Energy Saving LDR Road
3rd Automated Farm Closing Door
3rd Hydro Electricity Project
Report by Ridhima Ojha/ XI Science

Think of the rainbow
It's so similar
That people and cloud come everyday
There shadow cast by cloud fall on the hay
There are those who buy it with thunder
In the same way
Some people never leave
Even the hairs are white and grey
Some leave even there are
Good reason to stay
This is beyond our control
We can only wait for perfect cloud
There would 
Be someone waiting for you in the crowd
Start discovering instead of worrying
Think of the rainbow
When it's lightning
A beautiful view awaits
For you after the frightening
मंजिल
मंजिले तो है आसमानों से भी ऊंची
बस मलाल है ये ऊंचा आसमां न रूठ जाए
पंख तो पंछी के भी होते है
तेज हवाओं में कैसे वो बेचारा उड़ पाए
जो तलब है उन्हे तो 
मुकम्मल करके रहूंगा  
डर इस बात का है की
सब हासिल हो गया तो कुछ न पाने का ज़ख्म कैसे सहूंगा 
फिर एक खयाल आया 
की इस  तीरगी में रहना तो रिवायत है
ये वाकिआ तो सबके साथ होता है
जब नई राहें मिल जाती है
तो हम पुराने रास्ते यकसर भुला बैठते है
आखिर में ही ये खयाल ज़ेहन में आते है
इशरत तो इस बात की है 
की कुछ करके ही हम इस 
डर के अंजाम तक हम जब पहुंच जाते है
कोई कुछ न हासिल  करने पर डरते है 
तो कोई तब,जब सब कुछ हासिल करते है ।
बस अलग अलग लोगो का डर 
अलग लोगो से मनसूब है।
Rahul Vaishnav / Alumni
परीक्षा के दिन 
हमने अकसर यह देखा है और सुना है कि जब भी बच्चो के परीक्षा के दिन आते है, तो वह अपना सारा काम भूल जाते है और अपना पूरा वक्त केवल पढ़ाई पर लगाते है। उन्हें यह लगता है कि केवल पढ़ाई का समय परीक्षा के दिनों में ही होता है। बच्चो को लगता है कि उनके जीवन की सबसे बड़ी समस्या होती है परीक्षा। हमने देखा है कि बच्चे परीक्षा को बोझ के रूप में लेते है परंतु वह यह नहीं जानते कि परीक्षा केवल उनके क्षमता देखने के लिए रखी जाती है। परीक्षा न केवल पढ़ाई की होती है। परीक्षा हर एक उस चीज की होती है जो इंसान अपने जीवन में सीखता है। वह अकसर अपनी खुशी की चीज करने में ज्यादा ध्यान, जोश दिखाता है। वह यह नहीं जानता कि जो चीज उन्हें खुशी दे रही है, जीवन में कभी न कभी उस चीज की भी परीक्षा आती है और उस में वह सफल हो जाता है। जैसे -  उदाहरण के तौर पर हम लेते है कि अगर कोई बच्चा पढ़ाई में कमजोर है परंतु वह खेल में बहुत उत्तम है और वो पढ़ने की परीक्षा में पीछे रह जाता है परंतु वह खेल में सफल हो जाता है। 'परीक्षा' हमेशा बच्चो को खौफ क्यों लगती है। क्योंकि वह उससे डरते है और उसे एंजॉय नहीं करते। जब बच्चो को पढ़ने में रुचि आने लगेगी तो उन्हें परीक्षा से डर नहीं लगेगा और वह उससे दूर नहीं भागेंगे। 'परीक्षा' के वक्त बच्चो का खौफ दूर हो जाता है। और यह खौफ दूर भागने के लिए पढ़ने के तरीके को बदलना बहुत ही आवश्यक है। 'परीक्षा' का अर्थ बदलने के लिए बच्चो के जीवन में बदलाव बहुत आवश्यक है। जब बच्चे अपनी पसंद की चीज में परीक्षा देते है तो वह खुश हो जाते है। यदि जो उन्हें नहीं पसंद हो और उसकी परीक्षा हो तो उन्हे डर लगता है। 
" जीवन में मौका तो सभी को मिलता है। लेकिन सफलता केवल कड़ी मेहनत वालो को ही प्राप्त होती है।  "
विनिशा चौधरी / XII
RAJIV GANDHI GRAMIN OLYMPIC KHEL (2022)




Rajasthan Government has launched Gramin Olympic Khel Pratiyogita to promote sports and to build interest in sports for each individual who wants to play. People of any age group can participate in it. Rajasthan government encouraged people of rural areas to show case their hidden skills. The sports included in these games are Volleyball, Kabaddi, Hockey, Tennis Ball Cricket, Kho-Kho, and Shooting Volleyball. It started at the Gram Panchayat level in every village. The winning teams from each and every panchayat will participate at the block level.
Then at the district level and finally at the State level.

The motto of Gramin Olympic is Hit Rajasthan, Fit Rajasthan, and Khelega Rajasthan Jitega Rajasthan. 


Certificates and prizes are given to the winning teams. Around 30 lakh villagers have registered for these games. Students from our school, The Fabindia School have also participated in it from Classes 9th to 12th. Two teams won at the block level (Kabaddi Boys team and Kabaddi Girls team). Around 59 teams won at the Block Level Competition in Bali(Pali) district. C.M, Shree Ashok Gehlot said that a financial sanction of Rs. 40 crores has been given for this event.
Navneet Rajpurohit / XII
हिंदी भाषा
हिंदी हमारी राष्ट्रीय भाषा है। हिंदी भाषा का इतिहास लगभग एक हजार वर्ष पुराना है। पूरे विश्व में सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषाओं की सूची में हिंदी भाषा चौथे स्थान पर आती है। हिंदी भाषा को भारतीय विचार और संस्कृति का वाहक माना जाता है। हिंदी भारत की पहचान है और देश में इस हिंदी भाषा का दिवस भी मनाया जाता है। राष्ट्रीय भाषा किसी भी देश का गौरव होती है यह हमारे हिंदुस्तान का बाँध कर रखती हैं। हिंदी भाषा के प्रति प्रेम और सम्मान प्रकट करना हमारा राष्ट्रीय कर्तव्य है। इसी कर्तव्य के हेतु हम 14 सितंबर को हिंदी दिवस के रूप में मनाते हैं। इस दिन स्कूलों और कॉलेजों में हिंदी वाद विवाद प्रतियोगिता, कहानियां, कविता आदि का आयोजन किया जाता है। हम इस दिन को मनाते हैं ताकि हमारी आने वाली पीढ़ी और लोगों को हिंदी का महत्व पता चले। हिंदी एक ऐसी भाषा है जिसमें हम हमारे मन के भावों को अच्छे से व्यक्त कर सकते हैं। हिंदी हमारी मातृभाषा है और हमें इसका आदर और मूल्य समझना चाहिए।
नक्ष परिहार / V


Volume No. 528 Published by The Editorial Board: Mr. Jitendra Suthar, Ms. Jyoti Sain, Ms. Harshita Suthar, Mr. Chatra Ram Choudhary, Jatin Tripash, Pushpendra Singh Ranawat, Yashwant Singh Sonigra, Mohammad Anas Meenakshi Sirvi, Lakshya Raj Kunwar.

The School Weekly

Story of The Fabindia School by Bharti Rao